Home / राज्य / उत्तर प्रदेश / दो दशक से चल रही मांग एक बार फिर जोर पकडी

दो दशक से चल रही मांग एक बार फिर जोर पकडी

हरपालपुर/हरदोई 03 फरवरी।शैशव त्रिपाठी। अर्जुनपुर -बड़ा गांव में रामगंगा नदी पर पुल निर्माण को लेकर दो दशक से चल रही मांग एक बार फिर जोर पकड़ने लगी है। बैसे कार्तिक पूर्णिमा का दिन कटियारी वासियों के जहन में आज भी समाया है। इस दिन सन 1976 को इसी दिन पांचाल घाट फर्रुखाबाद गंगा नदी से स्नान कर वापस अपने घर लौट रहेे 90 श्रद्धालुओं की अर्जुनपुर- बड़ा गांव के बीच नाव पलटने से मौत हो गई थी। इसके अलावा करीव पाँच बर्ष पूर्व इसी दिन गंगा स्नान कर घर वापस आते समय एक ही परिवार के दो लोगे की मौत हो गयी थी। जिसमें पांडे पुरवा गांव के पन्द्रह ,बड़े गांव के दस व श्यामपुर, हरियापुर सहित तमाम गांव के लोग नाव पर सवार होकर घर वापस आ रहे थे। तभी नदी में नाव डूब गई और 90 श्रद्धालु की डूबने से मौत हो गई उस समय से कटियारी में पुल निर्माण की मांग जोर पकड़ने लगी आखिरकार तत्कालीन विधायक स्वर्गीय हरिशंकर तिवारी ने अर्जुन पर बड़ा गांव के बीच पैटून पुल का निर्माण कराया गया करीव पाँच बर्ष पूर्व धर्मपुर मडैया गाव के एक ही परिवार के दो लोग गंगा स्नान कर ट्रैक्टर से घर वापस आरहे थे। तभी पैटून पुल से कार्तिक पूर्णिमा के दिन ट्रैक्टर पलट गया दो और दोनों लोगों की मौत हो गयी थी। अर्जुन पुर वडागाव के वीच पक्के पुल के निर्माण के लिए पंचनद संघर्ष समिति कई बार धरना प्रदर्शन आंदोलन कर चुकी है लेकिन अभी तक पक्के पुल का निर्माण कटियारी वासियों के लिए सिर्फ सपना ही बना रहा 90 श्रद्धालुओं की मौत पर प्रत्येक वर्ष कार्तिक पूर्णिमा के दिन यहां दीपदान का आयोजन किया जाता है।

विधायक प्रतिनिधि रजनीश त्रिपाठी बोले

 अर्जुनपुर रामगंगा नदी पर पुल निर्माण के आंदोलन का अब कोई औचित्य नही रह जाता है। उनका कहना है कि विधायक जी के पुल निर्माण के लिए किए गए सार्थक प्रयास अब परिणाम के रूप में सामने आने लगे है। लोक निर्माण विभाग द्वारा जारी कार्यों के प्रस्ताव में अर्जुनपुर पुल को शामिल किया गया है। साथ ही प्रदेश से महत्वपूर्ण कार्यों के लिए हुडको को भेजी गयी सूची में भी पुल को स्वीकृति मिल गयी है। जल्द ही इसके लिए बजट भी आवंटित हो जाएगा। ऐसे में उन सभी संकल्पवान व्यक्तियों के संघर्ष को जिन्होंने 3 दशक से आंदोलन को जिंदा रखा है को मैं नमन करता हूँ। साथ ही अब आंदोलन सिर्फ श्रेय लेने के लिए किए जाने वाला प्रोपोगंडा मात्र ही है जिसका कोई औचित्य नही रह जाता है। आदरणीया सीमा मिश्रा जी के सुहाग चिन्हों को त्यागने का व्रत अब पूर्ण होने वाला है। महेश मिश्र, अवनिकान्त वाजपेयी, रामप्रताप पांडेय, सुधीर मिश्र, अरविंद मिश्र चग्घा, कैलाश सिंह समेत कटियारी के लाखों लोगों और उन सभी मृतात्माओं के परिजनों का त्याग और संघर्ष भी अब हकीकत में तब्दील होने वाला है। ऐसे में विधायक जी द्वारा किये जा रहे कार्यों को संबल और समर्थन देने के स्थान पर मात्र मीडिया में खुद को हीरो बनाने की यह मुहिम है। जो सारी स्थिति ज्ञात होने पर कि अब पुल निर्माण जल्द होने वाला है तब एक पब्लिसिटी स्टंट के तहत किया जाने वाला प्रायोजित आयोजन मात्र है।

vidhayak pratinidhi rajneesh kumar tripathi

अमरज्योति एसोशिएशन ने शुरू किया क्रमिक अनशन

अमरज्योति एसोशिएशन उत्तर प्रदेश के तत्वावधान में अर्जुनपुर रामगंगा नदी पर पुल निर्माण को लेकर समिति के पदाधिकारियों ने चार फरबरी से जिला मुख्यालय पर अनिश्चित कालीन धरना प्रदर्शन व क्रमिक अनशन करना प्रारम्भ कर दिया है। अध्यक्ष विष्णुनारायण दीक्षित, प्रमोद कुमार तिवारी, रामप्रताप पांडेय, अरविंद मिश्र,मुन्नू सिंह चैहान, नारदानंद तिवारी, चंद्र प्रकाश मिश्र, अमित पांडेय प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

 

About Durgesh Mishra

Check Also

फर्जीवाड़ा कर बैंक से बीस लाख हडपे

पाली/हरदोई 07 दिसम्बर।शोभित मिश्रा। फर्जीवाड़ा कर बैंक से ऋण के नाम पर लिये गये बीस …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: