Home / राज्य / उत्तर प्रदेश / कुर्सी की गरिमा गये भूल सत्ता के नशे में चूर भाजपाई

कुर्सी की गरिमा गये भूल सत्ता के नशे में चूर भाजपाई

शाहाबाद/हरदोई 11 सितम्बर।मो0गुल्फामखां। अब तो भाजपा संगठन के पदाधिकारी अपने रुतबे की मद में कुर्सी की गरिमा भी भूलने लगे है। सरकारी पद की कुर्सी को भाजपा संगठन के एक पदाधिकारी ने मजाक बनाकर फोटो सेशन करके अपनी फेसबुक पर फोटो अपलोड करके तारीफे बटोरी। यह मामला काफी दिलचस्प हो गया।
सोमवार को एक रोचक वाकया ब्लाक शाहाबाद में देखने को मिला। दोपहर में ब्लाक परिसर स्थित ब्लाक प्रमुख के कक्ष में भाजपा के विधानसभा के
विस्तारक पुष्कर मिश्रा ने ब्लाक प्रमुख की कुर्सी पर बैठकर अपना जलवा गालिब किया। यह दृश्य देखने वाले अचम्भित रह गए और सत्ता के दबाब में मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों में से किसी भी व्यक्ति की इस कार्य की आलोचना करते नहीं बना। भाजपा संगठन के शाहाबाद के विस्तारक की महत्वपूर्ण पद सम्भालने वाले पदाधिकारी भी अपनी सत्ताई ताकत में यह भूल गए कि उन्हें ब्लाक प्रमुख की कुर्सी पर बैठना कहाँ तक शोभा देता है। बात अगर कुर्सी पर बैठकर उठ जाने की होती तो मामला ठंडा हो जाता लेकिन इससे बढ़कर महाशय ने अपनी पुष्कर मिश्रा नाम की ही फेसबुक आईडी पर इस ब्लाक प्रमुख की कुर्सी पर बैठे फोटो अपलोड करके सैकड़ो लाइक और दर्जनों बढ़ाई कबूल की। ऐसा कारनामा करने वाले पुष्कर मिश्रा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के विभाग प्रमुख और आरएसएस में ओटीसी पद पर कार्यशील रहे है लेकिन इसके बाबजूद वह सत्ता की हनक में ब्लाक प्रमुख की कुर्सी पर अपने को बैठने से नहीं रोक सके। फेसबुक पर ऐसी पोस्ट के माध्यम से पत्रकारो को भनक लगते ही ब्लाक प्रमुख के कार्यालय में पत्रकारो का जमाबड़ा लगना शुरू हो गया। लेकिन भाजपा के पदाधिकारी को तब भी कुछ अहसास नहीं हो पाया। थोड़ी देर में जब उनके किसी एक भाजपा के साथी का फोन आया और उसकी बात सुनकर उनके चेहरे की हवाइयां उड़ने लगी। आनन फानन में भाजपा पदाधिकारी ने ब्लाक प्रमुख की कुर्सी छोड़कर दूसरी पर बैठ लिये और जल्दी जल्दी फेसबुक खोलकर अपनी आईडी से वह ब्लाक प्रमुख की कुर्सी पर बैठे की फोटो को भी डिलीट कर दिया। इसके बाद उन्हें ब्लाक प्रमुख की कुर्सी की सारी गरिमा का स्मरण आ गया और पत्रकारो से भी इस फोटो को प्रकाशित न करने की सिफारिशें लगवाई। हालांकि तब तक इन महाशय की फेसबुक आईडी से कई लोगो ने फोटो को निकालकर सेवकर लिया था। अब सवाल यह उठता है कि जब संगठन में अनुशासन की सीख देने वाले पदाधिकारी ही सत्ता के नशे में चूर होकर कुर्सी की गरिमा को भूलेंगे और झूठे जलबे को कायम करने में विश्वास करेगे तो और लोग क्या नसीहत सीखेगें। भाजपा के महत्वपूर्ण पदाधिकारी द्वारा ब्लाक प्रमुख की कुर्सी पर कब्जा जमाकर आराम फरमाते हुए फोटो शूट की यह नीति काफी चर्चा में है। और अब देखना है कि सत्ता के नशे में चूर होकर ब्लाक प्रमुख की कुर्सी पर बैठने वाले भाजपा पदाधिकारी की ऐसी झूठी शान पर भाजपा पार्टी क्या एक्शन अपनाती है। वही इस मामले पर ब्लाक प्रमुख रोली गुप्ता के पति और प्रतिनिधि नवनीत गुप्ता का पक्ष जानने पर उन्होंने बताया कि उन्हें उस कुर्सी पर भाजपा पदाधिकारी पुष्कर मिश्रा के बैठने पर कोई आपत्ति नहीं हैं। शायद ब्लाक
प्रमुख के पति को भी इस कुर्सी की अहमियत का एहसास नहीं। नही तो उनका ऐसा जबाब इस कुर्सी की गरिमा के साथ बड़ा मजाक प्रतीत होता है।

About Durgesh Mishra

Check Also

नगर का ऐतिहासिक सहजन कुआं बना कूड़ादान

बिलग्राम 12 नवम्बर। आनन्द अवस्थी/शब्बीर। नगर की ऐतिहासिक धरोहरों में से एक सहजन कुआं अपनी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: