Home / राज्य / उत्तर प्रदेश / प्रधान व सेक्रेटरी मिलकर सरकार को लगा रहे लाखो का चूना

प्रधान व सेक्रेटरी मिलकर सरकार को लगा रहे लाखो का चूना

बेहन्दर/हरदोई 16 मई। गाँव में प्रधानी के दो साल बीत जाने के बाद भी आज तक कोई काम नही करवाया गया और विकास के लिए आया पैसा भी प्रधान व सेक्रेटरी मिलकर डकार गए। ऊँची पहुंच होने के कारण कई बार शिकायत करने पर कोई कार्यवाही नही हुई।
ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि गाँव मे सफाई कर्मचारी न आने से गांव में चारो तरफ गंदगी फैली हुई हैं। नालियां कीचड़ से बजबजा रही उसमे तरह-तरह के कीड़े जन्म ले चुके हैं, जिससे गांव कई तरह की बीमारियो फैल रही हैं। अगर ऐसी लापरवाही होती रही तो यही बीमारिया महामारी का भी रूप ले सकती हैं।
ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि प्रधान व सेक्रेटरी मिलकर तीन लाख सत्तर हजार रुपये खा गए जोकि नालियो पे सीमेंट के पटरे डालने के लिए आए थे और कही पर एक भी पटरा नहीं डलवाया। पटरे पिछली पंचवर्षिय योजना में पड़े थे जोकि अब पूरी तरह से टूट चुके हैं जिससे कि आये दिन बच्चें चोट का शिकार हो रहे हैं।
ग्रामीणों ने भी बताया कि गांव पिलखनी व दमगड़ा में करीब एक दर्जन हैण्डपम्प खराब पड़े हैं जोकि क्रमशः रामखेलावन मौर्य, संभू सिंह, आशाराम, कन्हई बीडीसी, दोस्त मोहम्मद, प्यारे पासी, छोटे आदि के घरों के समीप लगे हैंजिससे कि पानी पीने व मवेशियो को पानी पिलाने की घोर संकट पैदा हो गया है। 5-6 महीने पहले हैंडपम्पों का सर्वे हो चुका था लेकिन चुनावी रंजिश के चलते आजतक हैंडपंप नहीं सही कराये गए।
डी0एम0 ने गर्मी शुरू होते ही सभी खंड विकास अधिकारियों व प्रधानों निर्देश दिया था कि खराब पड़े हैंडपंप तीन दिन में प्राथमिकता के साथ ठीक कराये जाये लेकिन यहाँ तो डी0एम0 के आदेश कुछ भी मायने नहीं रखते।
गांव में सफाई न होने पर गांव के ही अनिल कुमार तिवारी जोकि भाजपा सेक्टर सयोंजक है ने सफाई कर्मी की शिकायत 03-05-2018 को सायंकालीन लगी चैपाल में भारतीय जनता पार्टी के मीडिया प्रभारी भरत सिंह मौर्य से की गई तो इस बात की जानकारी सफाई कर्मी सुनीता के पति शिवकुमार को लगी तो उसने सुबह आकर ग्रामीणों को धमकाया व अप शब्दो का भी प्रयोग किया कहा आप लोग मेरा कुछ नहीं कर सकते हमारी पहुँच बहुत ऊँची है शिवकुमार दबंग किस्म का व्यक्ति है।
आवास योजना में भी प्रधान व सेक्रेटरी की खाऊ-कमाऊ नीति के चलते इसका भी दुरुपयोग किया गया जोकि वास्तव पात्र है। उनको आवास न देकर अपात्रों को दिए गए जिनके मकान पक्के है उन्हीं को आवास दिए जा रहे हैं और जिनके सिर पर आज भी छत नही है। वह शायद पात्रता की सूची में नही आते ग्रामीणों ने कई बार ब्लॉक पर शिकायत की लेकिन किसी ने कार्यवाही करना मुनासिफ नही समझा।
हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हर रोज स्वच्छ भारत का नारा लगाते है क्या यही है प्रधानमंत्री के सपनो का भारत या फिर स्वच्छता केवल कागजों पर ही शिमट कर रह गई हैं।

About Durgesh Mishra

Check Also

युवा मतदाताओं में पहली बार वोट डालने का जबरदस्त उत्साह

शाहाबाद, हरदोई।आशीष अवस्थी। 29 अप्रैल को मतदान होना है, इसे लेकर युवा मतदाताओं में जबरदस्त …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: