Home / राज्य / उत्तर प्रदेश / कौशल विकास मिशन के तहत रोजगार प्रशिक्षण दिये जायें: जोशी

कौशल विकास मिशन के तहत रोजगार प्रशिक्षण दिये जायें: जोशी

हरदोई 29 मई।शैशवत्रिपाठी। मंत्री महिला कल्याण, परिवार कल्याण, मातृ एवं शिशु कल्याण व पर्यटन उ0प्र0 प्रो0 रीता बहुगुणा जोशी जी ने विगत दिवस राजकीय बाल सम्पे्रक्षण गृह में बन्द बाल बंदियों के दो गुटों के बीच हुए झगड़े की जानकारी एवं निरीक्षण मंगलवार प्रातः राजकीय समपे्रक्षण गृह हरदोई पहुंच कर किया।
निरीक्षण के दौरान महिला कल्याण मंत्री ने सम्पे्रक्षण गृह में रह रहे बाल बंदियों के कमरों, शौचालय, रसोई घर आदि को देखा तथा कम शौचालयों एवं खराब शौचालयों के सम्बन्ध में मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश दिये कि पी0डब्ल्यू0डी0 के माध्यम से अतिरिक्त शौचालयों का निर्माण करायें और बच्चों के खेलने हेतु बालीबाल कोर्ट का निर्माण करायें ताकि बच्चों की खेल में रूचि बढ़े और समपे्रक्षण गृह की बाउन्ड्री वाल और उं्ची कराई जायें। मंत्री ने मुख्य विकास अधिकारी एवं नगर मजिस्टेªट वन्दिता श्रीवास्तव को निर्देश दिये कि सम्पे्रक्षण गृह के बच्चों को पढ़ाई के साथ ही कौशल विकास मिशन के तहत रोजगार से सम्बन्धित प्रशिक्षण दिये जाये ताकि सम्पे्रक्षण गृह से बाहर जाने के बाद बच्चें अपना रोजगार स्थापित करें और अपराध से मुक्त हो सकें।
मंत्री ने कहा कि सम्पे्रक्षण गृह के बड़े एवं छोटे बच्चों को अलग-अलग रखा जाये तथा जो बालबंदी उपद्रवी उन्हें दूसरे जिले के सम्पे्रक्षण गृह में स्थानान्तरित किया जायें और बच्चों पर विशेष नजर रखी जायें। उन्होने निरीक्षण के दौरान बाल बंदियों से भी मुलाकात की और कहा कि वह अपने द्वारा जाने अन्जाने में किये गये किसी न किसी अपराध में यहां आये है और अब अपने द्वारा किये कृत्यों को भुलाकर पढ़ाई-लिखाई के साथ कौशल मिशन के अन्तर्गत कोई भी रोजगार परक प्रशिक्षण लेकर यहां से बाहर जाकर एवं अच्छे इन्सान के रूप में अपने को समाज में स्थापित करें ताकि समाज में पुनः सम्मान हासिल कर सकें।
उन्होने मुख्य विकास अधिकारी से कहा कि सम्पे्रक्षण के बच्चों के झगड़े में अधिकारियों की भी लापरवाही नजर में आ रही है, इसलिए अधिक साल से रूके अधिकारियों के स्थानान्तरण किये जायेगें साथ ही जांच में जो दोषी पायें जायेगें उनके खिलाफ कार्यवाही की जायेगीं। महिला कल्याण मंत्री ने राजकीय सम्पे्रक्षण गृह के सामाजिक संस्था के पदाधिकारियों पर इस हादसे के प्रति नाराजगी व्यक्त की तथा निर्देश दिये कि राजकीय बाल सम्पे्रक्ष गृह का नियमित निरीक्षण करें और बच्चों से वार्ता भी करें ताकि उनकी किसी भी परेशानी की जानकारी हो और उनका सुधार समय से हो सकें।
निरीक्षण के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 जावेद अहमद, अपर पुलिस अधीक्षक निधि सोनकर, उप जिलाधिकारी सर्वेश गुप्ता, तहसीलदार सदर रामआसरे, जिला प्रोबेशन अधिकारी सतीश सिंह, केयर टेकर वेद प्रकाश, संस्था की सदस्य गीतेश नन्दिनी रस्तोगी, अर्चना बाजपेई सहित अन्य अधिकारी आदि मौजूद रहें।

About Durgesh Mishra

Check Also

युवा मतदाताओं में पहली बार वोट डालने का जबरदस्त उत्साह

शाहाबाद, हरदोई।आशीष अवस्थी। 29 अप्रैल को मतदान होना है, इसे लेकर युवा मतदाताओं में जबरदस्त …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: