Home / राज्य / उत्तर प्रदेश / 51 कुंडीय गायत्री महायज्ञ में सैकड़ो श्रद्धालुओ ने आहुति छोड़ी

51 कुंडीय गायत्री महायज्ञ में सैकड़ो श्रद्धालुओ ने आहुति छोड़ी

पिहानी/हरदोई 11 नवम्बर। विपुल मिश्रा। लेहना नेवादा गांव में हो रहे 51 कुंडीय गायत्री महायज्ञ में सैकड़ो श्रद्धालुओं ने एक साथ यज्ञ करके एक-एक बुराई छोड़ने का संकल्प भी लिया। कार्यक्रम का संचालन कर रहे टोली नायक प्रियंक दीक्षित ने यज्ञ के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि आज मानव का पूरा जीवन संकटो से घिरा पड़ा है अगर उसको अपनी रक्षा करनी है तो उसके पास सिर्फ एक ही उपाय है और वह है यज्ञ। गायत्री महायज्ञ में निवर्तमान जिलाध्यक्ष श्रीकृष्ण शास्त्री ने भी हिस्सा लिया। सहसंयोजक रामलखन सविता ने बताया कि देहरादून से आ रहे परमपूज्य गुरुदेव के आत्मीय शिष्य श्रद्धेय श्री सुभाष नागपाल जी सोमवार को दीपयज्ञ में सम्मिलित होकर कार्यक्रम को सम्बोधित करेंगे।
गायत्री महायज्ञ के सहसंयोजक रामलखन सविता ने बताया कि आज वातावरण के साथ मनुष्य के विचार भी पूरी तरह से दूषित हो चुके हैं अगर मनुष्य को अपने विचारों को शुद्ध करना है तो उसे यज्ञ का सहारा ही लेना पड़ेगा क्योंकि यज्ञ से वातावरण शुद्ध होगा जब वातावरण शुद्ध होगा तभी मानव जीवन संकट मुक्त होगा। टोली नायक प्रियंक दीक्षित ने कहा कि आज एक दूसरे के प्रति नफरत इतनी ज्यादा बढ़ गयी है कि वह एक दूसरे का जान का प्यासा हो गया है मनुष्य के अन्दर प्रेम बहुत ही कम हो गया स्वार्थ भावना बढ़ती जा रही है ईश्वर के लिए वक्त नही रह गया है बोले कि यज्ञ से मनुष्य की सभी कामनाएं पूरी होती हैं। पहले हमारे ऋषि मुनि मानव व विश्व कल्याण के लिए यज्ञ करते थे यज्ञ के माध्यम से देवताओ को प्रसन्न करके मनवांछित फल प्राप्त करते थे यज्ञ से पूरा वातावरण सुगंधित हो जाता था तथा चारो तरफ खुशहाली बनी रहती थी। यज्ञ से आज भी तमाम तरह की बीमारियां मनुष्य के शरीर से दूर हो जाती है तथा मनुष्य निरोगी जीवन जी सकता है। यज्ञ मनुष्य के विचार को शुद्ध करता है । कार्यक्रम में सैकड़ो की संख्या में मौजूद श्रद्धालुओं ने गायत्री मंत्रो के साथ आहुतियां समर्पित की। इस दौरान राष्ट्र कल्याण के लिए भी विशेष आहुतियां भी डाली गईं। संगीत टोली ने कई प्रज्ञा गीतों के माध्यम से समाज सुधार का संदेश दिया। सुनीत बाजपेयी, डॉ वैभव जयसवाल, नवनीत बाजपेयी, वीरेंद्र यादव, रमेश सिंह, पिंकू मिश्रा, सुधीर राठौर, धर्मेंद्र राठौर आदि ने पूजन किया। प्रसाद वितरण व भंडारे के साथ कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। गोपाल, चेतराम, अंकल, रामपाल, शीलू, सोमू आदि ने व्यवस्थाएं संभाली।

About Durgesh Mishra

Check Also

फर्जीवाड़ा कर बैंक से बीस लाख हडपे

पाली/हरदोई 07 दिसम्बर।शोभित मिश्रा। फर्जीवाड़ा कर बैंक से ऋण के नाम पर लिये गये बीस …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: