Home / राज्य / उत्तर प्रदेश / गौरवपूर्ण मनाया गया शहीद कर्नल का 25वां बलिदान दिवस

गौरवपूर्ण मनाया गया शहीद कर्नल का 25वां बलिदान दिवस

हरदोई 28 अक्टूबर।शैशवत्रिपाठी। अशोक चक्र से सम्मानित शहीद कर्नल हर्ष उदय सिंह गौर के 25 वें बलिदान दिवस को गौरव पूर्ण तरीके से मनाने के लिए आप और हम चेतना मंच की ओर से रविवार को शौर्य माहपर्व का शुभारंभ सेवानिवृत्त आईएएस व साहित्यकार अवधेश कुमार सिंह राठौर एवं न्यायाधीश अविनाश पांडे ने दीप प्रज्वलन कर किया।
अमर शहीद कर्नल हर्ष उदय सिंह गौर पार्क में शुरू हुए समारोह में शिक्षा क्षेत्र की प्रतिभाओं को भी सम्मानित किया गया अतिथियों में राष्ट्रवाद समाज हित में किए गए त्याग व बलिदान को महत्वपूर्ण बताया, कहा महापुरुषों व वीर बलिदानियों के जीवन मूल्यों से समाज विशेषकर नई पीढ़ी प्रेरणा ले ।शौर्य माह पर्व का समापन सोमवार 29 नवंबर को 25 में शहादत दिवस पर होगा। तत्कालीन जिलाधिकारी एके सिंह राठौर ने कहा अपने जीवन की आहुति देकर राष्ट्र रक्षा करना सैनिक का धर्म है, जिसे शहीद कर्नल हर्ष उदय सिंह गौर ने प्राण प्राण से निभा कर भारत का मान रखा। उन्होंने स्वतंत्रता आंदोलन में सामूहिक नरसंहार का गवाह सिमरिया शहीद स्मारक, रुइया गढ़ी नरपत सिंह स्मारक व बेरूआ स्टेट के शौर्य पराक्रम याद करते हुए हरदोई को बलिदानीयों की भूमि बताया। श्री राठौर ने चेतना मंच के रचनात्मक प्रयासों को भी सराहा। न्यायाधीश अविनाश पांडे के साथ पूर्व डीएम श्री राठौर ने भैंन गांव निवासी लखनऊ विश्वविद्यालय में पीएचडी गोल्ड मेडलिस्ट डॉक्टर कुलबीर सिंह चैहान और वर्धा विश्वविद्यालय महाराष्ट्र में गोल्ड मेडल के साथ पत्रकारिता में परास्नातक डिग्री प्राप्त करने वाले सतौथा निवासी रजनीश त्रिपाठी को स्मृति चिन्ह व सम्मान पत्र के साथ शॅाल उड़ा कर सम्मानित किया। साथ ही अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव 2018 में अपना विज्ञान मॉडल प्रस्तुत कर प्रथम स्थान पाने वाले भारतीय विद्यापीठ पुणे के इंजीनियरिंग तृतीय वर्ष के छात्र राम मित्र को भी स्मृति चिन्ह के साथ अंग वस्त्र उड़ा कर सम्मानित किया। मेधाविओं ने भी समृद्ध भारत बनाने के विचार रखें। न्यायाधीश श्री पांडे ने कहा स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों व कर्नल हर्ष उदय सिंह गौर जैसे शहीदों के सपनों का शुद्र व समृद्ध भारत बनाने की जिम्मेदारी हम सबकी विशेषकर नई पीढ़ी पर है। श्री पांडे ने संस्कारित शिक्षा पर बल दिया और कहा भारत की सांस्कृतिक समृद्धत्ता से ही विश्व शांति का मार्ग प्रशस्त होगा। उन्होंने भयमुक्त वातावरण के परस्पर मैत्रीभाव से जीने की सीख दी। चेतना मंच के संरक्षक अरुणेश बाजपेई ने अतिथियों का स्वागत किया। संस्था के कार्यवाहक अध्यक्ष अनिल सिंह ने अध्यक्षता की और आभार संयोजक कमलेश पाठक ने जताया। संचालन महेश मिश्र ने किया।
समारोह में नरेंद्र सिंह पूर्व प्राचार्य डॉक्टर बीडी शुक्ल, ब्रजराज सिंह तोमर, अखिलेश बाजपेई, रामेश्वर बाजपेई, प्रताप सिंह, संग्राम सिंह, पारुल दीक्षित, प्रद्युम्न सिंह, अरविंद सिंह, गिरीश बाजपेई, वीरेंद्र सिंह, हरिवंश सिंह, सीमा मिश्रा, निधि शुक्ला, विकास पाठक व अंकुर चंदेल आदि लोग शामिल रहे।

About Durgesh Mishra

Check Also

बुजुर्गों को सामूहिक रूप से कराया भोजन

हरदोई।शैशव त्रिपाठी। दक्षिणायन से उत्तरायण में सूर्य भगवान का पदार्पण कर देवरात्रि को तिल तिल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: