Home / राज्य / उत्तर प्रदेश / नरेश के चक्रव्यूह को तोड़ने के लिये भाजपा ने लगाया पारूल पर दांव
parul dixit

नरेश के चक्रव्यूह को तोड़ने के लिये भाजपा ने लगाया पारूल पर दांव

हरदोई 04 नवम्बर।दुर्गेश मिश्रा। नगर निकाय चुनावों को लेकर पिछले कई दिनों से जिस भाजपा प्रत्याशी के नामों की सूचि को लेकर तरह तरह के कयास लगाये जा रहे थे उस पर आखिरकार शुक्रवार देर रात विराम लग गया और भाजपा ने हरदोई नगरपालिका के लिये राज्यसभा सांसद के धुर विरोधी पारूल दीक्षित पर अपना दांव चलकर उन्हें पार्टी का अधिकृत प्रत्याशी घोषित कर दिया। पारूल दीक्षित समाजवादी पार्टी मे तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव व शिवपाल यादव के बीच चल रही उठापटक के शिवपाल को पार्टी के अध्यक्ष पद से हटाने के नाटकीय घटनाक्रम के बाद भाजपा मे शामिल हुये थे और वह करीब 17 बार समाजवादी पार्टी के जिला उपाध्यक्ष व हरियावां द्वितीय सीट से जिला पंचायत के सदस्य भी रहे है।

पारूल दीक्षित समाजवादी पार्टी के संस्थापकों मे शामिल रहे पूर्व कैबिनेट मंत्री अशोक बाजपेयी के ,खासमखासों मे शुमार किये जाते है और उन्हें वह अपना राजनैतिक गुरू भी मानते है। खास बात यह है कि कभी समाजवादी पार्टी मे एक साथ राजनीति करने वाले पारूल दीक्षित के राजनैतिक गुरू श्री बाजपेयी और खुद पारूल आज दोनों भाजपा की लहर पर सवार है।

बतातें चलें कि हरदोई नगरपालिका से भाजपा प्रत्याशी पारूल दीक्षित ने विधानसभा चुनावों से ठीक पहले बालामऊ से सपा विधायक अनिल वर्मा के साथ पार्टी की सदस्यता ग्रहण की थी और चुनाव के दौरान उन्होनें जमकर समाजवादी पार्टी केे प्रत्याशी रहे सदर विधायक नितिन अग्रवाल के खिलाफ मोर्चा खोला था लेकिन भाजपा की भयंकर लहर के बाद भी नितिन चुनाव जीतकर सदर के विधायक बन गये थे।

भाजपा द्वारा पारूल दीक्षित को प्रत्याशी बनाये जाने से नगरपालिका अध्यक्षी के लिये कांटे का मुकाबला होने की संभावना जतायी जा रही क्योकि समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी सुखसागर मिश्र मधुर नगरपालिका के पूर्व अध्यक्ष रह चुके है और वह जनपद के कद्दावर नेता नरेश अग्रवाल के समर्थित प्रत्याशी है।

नगरपालिका चुनाव मे मधुर को विजयश्री दिलाने के लिये नरेश अग्रवाल व सदर विधायक नितिन अग्रवाल ने चुनाव की कमानखुद अपने हांथों मे लेकर अपने समर्थकों को मधुर के पक्ष मे प्रचार करने के खुले निर्देश दे रखे है। सपा प्रत्याशी मधुर मिश्रा को जंहा राज्यसभा सांसद नरेश अग्रवाल के समर्थन का लाभ मिल रहा तो वही युवाओं मे लोकप्रिय पारूल दीक्षित भाजपा लहर के सहारे नगरपालिका की नईया पार लगाने की जुगत में जुटे है।

इन नेताओं ने नगरपालिका के लिये किया था भाजपा से आवेदन

शुक्रवार देर रात हरदोई नगरपालिका के अध्यक्ष पद के प्रत्याशी के तौर भले ही पारूल दीक्षित के नाम का एलान हो गया हो लेकिन ऐसा भी नही है कि पार्टी का प्रत्याशी बनने के लिये भाजपा के पुराने व नये कद्दावर नेताओं से टिकट के लिये कड़ा मुकाबला ना करना पड़ा हो। नगर निकाय चुनावों के लिये हरदोई नगरपालिका के लिये सबसे अधिक 18 आवेदन निकाय चुनाव प्रभारी गोविन्द पाण्डे व जिला प्रभारी नीरज सिंह को सौंपे गये। चुनाव प्रभारी को सौंपे गये आवेदनों को वरीयताक्रम मे पैनल बनाकर शीर्ष नेतृत्व को सौंप दिया गया था। शीर्ष नेतृत्व को वीरयताक्रम में सौेंपे गये पैनल मे पहले नम्बर पर पारूल दीक्षित का नाम था जिन्हें पार्टी ने प्रत्रूाशी भी बनाया वंही दूसरे न0 पर पिछली बार भाजपा की प्रत्याशी रही सुधा मिश्र के पति अनोज मिश्रा का नाम था जोकि भाजपा के नगर अध्यक्ष भी रहे है, तीसरे न0 पर पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष रामकिशोर गुप्ता गुड्डू, चौथे पर प्रीतेश दीक्षित, पांचवे न0 पर जिला महामंत्री राजेश अग्निहोत्री, छठें न0 पर भाजपा व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष राजेश गुप्ता, सातवें न0 पर युवामोर्चा के जिलाध्यक्ष संदीप सिंह, आठवें न0 पर रवीन श्रीवास्तव, नौवें न0 पर अविनाश मिश्रा, दसवें पर अमित दीक्षित, ग्यारहवें पर बाल विद्याभवन की प्रबन्धक कीर्ति सिंह, बारहवें पर आर्यभूषण तिवारी, तेरहवें पर मनोज जायसवाल, चैदहवें पर प्रेमपाल लोहिया, पद्रहवें पर सुशील अवस्थी, सोलहवें पर अमित श्रीवास्तव, सत्रहवें पर प्रशांत पाठक व अठाहरवें नम्बर पर मोहम्मद सलीम खान का नाम शामिल था।

About Akash Shukla

Check Also

युवा मतदाताओं में पहली बार वोट डालने का जबरदस्त उत्साह

शाहाबाद, हरदोई।आशीष अवस्थी। 29 अप्रैल को मतदान होना है, इसे लेकर युवा मतदाताओं में जबरदस्त …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: